मोईन अली ने टेस्ट क्रिकेट से लिया संन्यास, कहा- टीम के साथियों को मिस करूंगा

 


लंदन, : इंग्लैंड के ऑल राउंडर मोईन अली ने टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया. उन्होंने कहा कि मैं अपनी टीम के साथियों के साथ बाहर निकलना मिस करूंगा, मैं दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों के खिलाफ नर्वस भावना के साथ नहीं खेलूंगा जिसमें गेंदबाजी भी शामिल है. मैं अपनी सर्वश्रेष्ठ गेंद पर किसी को भी आउट कर सकता था. हालांकि, इसके पीछे की वजह टी20 विश्व, एशेज सीरीज और कोरोना वायरस महामारी से जुड़ी है, क्योंकि कोरोना के कारण क्रिकेटर घर वालों को समय नहीं दे पा रहे हैं.


 
मोईन के संन्यास लेने के बाद इंग्लैंड को उनकी कमी खलेगी. वह सात वर्षों से अपने देश के लिए टेस्ट खेल रहे थे. सात साल पहले 12 जून 2014 को मोईन अली ने श्रीलंका के खिलाफ लॉर्ड्स में अपने टेस्ट करियर का आगाज किया था. वह इंग्लैंड के लिए अब तक 64 टेस्ट मैच खेल चुके हैं. इस दौरान 2914 रन बनाए और 195 विकेट झटके. टेस्ट क्रिकेट में उनका सर्वोच्च स्कोर 155 रन नाबाद है. जबकि 53 रन देकर 6 विकेट आउट करना उनका सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन है. उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट भारत के खिलाफ लंदन के द ओवर में 2 सितंबर 2021 को खेला था.

इससे पहले मोईन अली ने 2019 में 5 टेस्ट मैच खेलने के बाद अनिश्चितकाल के लिए ब्रेक लिया था. इसके बाद भारत दौरे पर उनकी चेन्नई टेस्ट में वापसी हुई. वहीं, भारत के इंग्लैंड दौरे पर उन्होंने तीन टेस्ट मैच इंग्लैंड के लिए खेले. हालांकि इस दौरान उनका प्रदर्शन बहुत अच्छा नहीं रहा.
इस साल के आखिर में इंग्लैंड की टीम ऑस्ट्रेलिया दौरे पर एशेज सीरीज खेलने जाएगी. जिसकी शुरुआत दिसंबर से होगी. ऐसे में मोईन अली का टीम में न होना इंग्लैंड के लिए परेशानी बन सकती है. क्योंकि मोईन बल्ले और गेंद से जोरदार प्रदर्शन करने के लिए जाने जाते हैं.
बता दें कि मौजूदा समय में मोईन अली इंडियन प्रीमियर लीग 2021 में खेल रहे हैं. वह महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपर किंग्स का हिस्सा हैं. सीएसके के लिए इस सत्र में वह काफी सफल रहे हैं. आईपीएल 2021 में मोईन 9 मैचों में 261 रन बना चुके हैं जिसमें उनका एक अर्धशतक शामिल है.

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
रूस में दो नए काउंसलेट खोलने का ऐलान, मॉस्को में बोले मोदी- भारत का विकास देख दुनिया भी हैरान
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र