विपक्ष के आरोपों पर बोले पंजाब CM- क्या गरीब का बेटा प्राइवेट जेट से सफर नहीं कर सकता?

 


पंजाब के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी प्राइवेट जेट से यात्रा करने के मामले में विपक्षी दलों के निशाने पर आ गए हैं 


सोशल मीडिया पर उनकी एक तस्वीर काफी सुर्खियों में बनी हुई है। जिसमें वह कुछ कांग्रेस नेताओं के साथ प्राइवेट जेट के साथ नजर आ रहे हैं।

उनकी इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए कई विपक्षी नेताओं ने तरह तरह की प्रतिक्रियाएं दी हैं।अब पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने इस मामले में सफाई दी है।

उन्होंने विपक्षी नेताओं पर पलटवार करते हुए कहा है कि अगर एक गरीब आदमी प्राइवेट जेट से सफर करता है तो इसमें क्या समस्या है?

दरअसल मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब के दोनों उप मुख्यमंत्रियों के साथ प्राइवेट जेट से दिल्ली गए थे।

जिसके बाद आम आदमी पार्टी और अकाली दल के नेताओं ने उन पर तीखा हमला बोला था।दरअसल पंजाब के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने के दौरान चरणजीत सिंह चन्नी ने खुद को आम आदमी और सरकार को आम आदमी की सरकार करार दिया था।

लेकिन जब उन्होंने दोनों उप मुख्यमंत्रियों के साथ प्राइवेट जेट से दिल्ली का सफर किया तो विपक्षी दलों ने इसे एक बड़ा मुद्दा बना लिया।

इसी के चलते अकाली दल ने कहा था कि मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी खुद को आम आदमी कहते हैं। लेकिन कांग्रेस के नेताओं के साथ सिर्फ चंडीगढ़ से दिल्ली तक का सफर करने के लिए प्राइवेट जेट का इस्तेमाल करते हैं।यहां तक कि पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल ने भी कांग्रेस के नेताओं के इस दौरे पर तंज कसा था।

दरअसल पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के साथ कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू भी गए थे। जानकारी के लिए आपको बता दें कि पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के विरोधी माने जा रहे हैं।

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
यूपी सरकार से तंग आ चुके हैं हम, वहां जंगलराज जैसी स्थितिः सुप्रीम कोर्ट
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र