पीएम मोदी ने कहा कि हम सभी का दायित्व है कि हम एकता का संदेश देने वाली किसी-ना-किसी गतिविधि से जरुर जुड़ें. सरदार साहब कहते थे कि, हम अपने एकजुट उद्यम से ही देश को नई महान ऊंचाईयों तक पहुंचा सकते हैं. अगर हममें एकता नहीं हुई तो हम खुद को नई-नई विपदाओं में फंसा देंगे. यानी राष्ट्रीय एकता है तो ऊंचाई है, विकास है. हमारी आजादी का आंदोलन तो इसका सबसे बड़ा उदाहरण है. पीएम मोदी ने कहा कि अगले रविवार, 31 अक्तूबर को सरदार पटेल जी की जन्म जयंती है . उन्होंने कहा ‘मन की बात’ के हर श्रोता की तरफ से और मेरी तरफ से लौहपुरुष को नमन करता हूं. पीएम मोदी ने बागेश्वर की रहने वाली पूनम से बातचीत की. इस दौरान उन्होंने कहा कि उनका सौभाग्य है कि उन्हें बागेश्वर आने का अवसर मिला था वो एक प्रकार से तीर्थ क्षेत्र रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि वह अपने देश अपने देश के लोगों की क्षमताओं से भली-भांति परिचित हैं. उन्होंने कहा कि वह जानते हैं कि स्वास्थ्यकर्मी देशवासियों के टीकाकरण में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेंगे.

 


मुंबई : क्रूज ड्रग्स पार्टी केस में आज चौंकाने वाले खुलासे किए गए हैं. दरअसल इस केस से जुड़े शख्स केपी गोसावी का बॉडीगार्ड बताने वाले प्रभाकर सेल ने एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े और गोसावी पर पैसों की डील के आरोप लगाए हैं. हालांकि समीर वानखेड़े ने इन सभी आरोपों से इनकार किया है और कहा है कि वह बाद में इसका सटीक जवाब देंगे.

बीते दिनों प्राइवेट डिटेक्टिव केपी गोसावी की ही फोटो आर्यन खान के साथ वायरल हुई थी. जिसको लेकर प्रभाकर सेल नाम के इस गवाह ने एक हलफनामे में दावा किया है कि उसने केपी गोसावी और किसी सैम डिसूजा के बीच 18 करोड़ रुपये की डील की बात सुनी थी. इनमें से 8 करोड़ रुपये एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े को दिए जाने थे. उसने यह भी दावा किया है कि उसने केपी गोसावी से रुपये लेकर सैम डिसूजा तक पहुंचाए थे. प्रभाकर ने कहा कि एनसीबी ने उन्हें गवाह बनाकर 10 सादे कागज पर दस्तखत लिए. उनका आधार कार्ड मांगा गया.

 


वहीं प्रभाकर ने यह भी आरोप लगाया है कि केपी गसावी लापता है. उसका कहना है कि उसे केपी गोसावी की जान को खतरा होने की आशंका है. इसलिए उसने यह हलफनामा दाखिल किया है.

एनसीबी ने सभी आरोपों बेबुनियाद बताया है. उन्होंने यह भी सवाल किया कि अगर पैसों का लेनदेन होता तो कोई भला जेल में क्यों होता. सूत्रों ने कहा कि ये सारे आरोप एनसीबी की छवि बिगाडऩे के लिए लगाए जा रहे हैं. ऑफिस में सीसीटीवी कैमरा लगे हैं. ऐसा कुछ भी कहीं नहीं हुआ है. अफसरों का कहना है कि वे 2 अक्टूबर से पहले प्रभाकर सेल को जानते तक नहीं थे. सूत्रों ने कहा कि उसका यह हलफनामा एनडीपीएस कोर्ट पहुंचाया जाएगा. एनसीबी भी वहां अपनी प्रतिक्रिया देगी.मालूम हो कि गोसावी वही शख्स है, जिसके साथ आर्यन खान की सेल्फी वायरल हुई थी और जिसे एनसीबी ने मामले में स्वतंत्र गवाह बताया था. प्रभाकर ने बताया कि वह गोसावी के बॉडीगार्ड के तौर पर काम करता था.

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
रूस में दो नए काउंसलेट खोलने का ऐलान, मॉस्को में बोले मोदी- भारत का विकास देख दुनिया भी हैरान
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र