सरकारी विभागों में जल्द शुरू होगी भर्ती की प्रक्रिया, योगी सरकार ने मांगा रिक्त पदों का ब्यौरा

 


लखनऊ, : उत्तर प्रदेश की योगी सरकार जल्द ही सरकारी नौकरियों की घोषणा कर सकती है. प्रदेश के सभी सरकारी विभागों के रिक्त पदों पर भर्ती करने की तैयारी है. इसके लिए उन्होंने मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने अपर मुख्य सचिवों, प्रमुख सचिव व सचिवों को विभाग में खाली पदों का ब्यौरा भेजने का आदेश दिया है. यह भी निर्देश है कि यदि अफसरों को किसी तरह के उच्च स्तरीय अनुमोदन की जरूरत हो तो तत्काल अनुमोदन लेकर ब्योरा भेजें.


 
यूपी सरकार की प्राथमिकता शासकीय कार्यों का त्वरित व समयबद्ध निस्तारण कराना है. इसके लिए विभागों के खाली पदों को जल्द भरा जाना जरूरी है. मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने भेजे आदेश में यह भी लिखा है कि शासन ने इस संबंध में समय-समय पर निर्देश भी दिए हैं. उन्होंने विभागों को शासन स्तर, विभागाध्यक्ष, निदेशालय, मंडल व जिला स्तर पर रिक्त पदों को भरे जाने के लिए जल्द प्रक्रिया पूरा कराने के निर्देश दिए हैं. मुख्य सचिव ने यह भी लिखा है कि निकट भविष्य में जो कार्मिक सेवानिवृत्त हो रहे हैं उन रिक्त होने वाले पदों के लिए भी चयन की कार्यवाही पूरा करा ली जाए.

राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के अध्यक्ष जेएन तिवारी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, मुख्य सचिव व अपर मुख्य सचिव कार्मिक डा. देवेश चतुर्वेदी का आभार व्यक्त किया है. बताया कि 28 अक्टूबर 2020 को मुख्य सचिव की अध्यक्षता में राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के प्रतिनिधिमंडल के साथ हुई बैठक में रिक्त पदों को तत्परता से भरने पर सहमति बनी थी. 10 जुलाई 2021 को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात के दौरान भी रिक्त पदों को भरने का आश्वासन मिला था. इससे पहले परिषद ने मुख्यमंत्री को बताया था कि प्रदेश में करीब 3,79,709 पद विभिन्न विभागों में रिक्त हैं. विभागाध्यक्ष इन पदों को भरने में रुचि नहीं ले रहे हैं.

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
रूस में दो नए काउंसलेट खोलने का ऐलान, मॉस्को में बोले मोदी- भारत का विकास देख दुनिया भी हैरान
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र