कोविड से ही नहीं, अन्य संक्रमण से भी बचाता है मास्क

 


शादी व समारोह में जाएँ तो मास्क जरूर लगाएं : सीएमओ

जिला कोरोना मुक्त जरूर हुआ है लेकिन लापरवाही पड़ सकती है भारी

गोरखपुर,स्वास्थ्य विभाग इस बात से चिंतित है कि शादी और समारोह में जाने पर लोग मास्क की अनिवार्यता भूलने लगे हैं. इससे कोविड संक्रमण पुनः फैलने की आशंका है. आस-पास के जिलों में कोविड के कुछ एक केस मिलने से चिंता और बढ़ रही है. इस बीच, मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा है कि मास्क न केवल कोविड से बचाता है, बल्कि अन्य कई प्रकार के संक्रमण से भी रक्षा करता है. इसलिए सभी लोग बाहर निकलें तो मास्क अवश्य पहनें. उनका कहना है कि जिला कोविड मुक्त जरूर हुआ है लेकिन लापरवाही भारी पड़ सकती है.


 सीएमओ ने बताया कि इस माह की शुरूआत में ही जनपद कोविड मुक्त हो चुका है. पड़ोसी जिलों में इसके बाद भी इक्का दुक्का केस मिले हैं. देश और प्रदेश अब भी कोविड मुक्त नहीं हुआ है. शादी-ब्याह व अन्य समारोहों में शामिल होने के लिए दूर-दराज से लोगों का आना जाना हो रहा है. जिससे संक्रमण के फैलने की आशंका है. मौसम में बदलाव के साथ वायरल फीवर के मामले भी सामने आ रहे हैं. अगर लोग समारोहों में मास्क लगा कर मिलें तो दोनों प्रकार के संक्रमण से बचाव हो सकता है. मास्क लगाने से टीबी जैसी बीमारियों का भी संक्रमण नहीं फैलता है.

डॉ. पांडेय ने बताया कि लोग कपड़े का धुलने योग्य थ्री लेयर मास्क लगा सकते हैं और चाहें तो सर्जिकल मास्क का भी इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन सर्जिकल मास्क का इस्तेमाल एक दिन से ज्यादा नहीं करना चाहिए. उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि मास्क का इस्तेमाल सावधानी के साथ करना है. नाक और मुंह ढंका होना चाहिए. खाना खाते समय लोगों से दूरी बना कर मास्क उतारें और खाना खाने के बाद पुनः मास्क पहन लें. मास्क के ऊपरी भाग को नहीं छूना है.सेनेटाइजर या पेपर सोप साथ रखें

सीएमओ ने बताया कि कुछ समारोह में तो हैंडवॉश का इंतजाम रहता है लेकिन कुछ स्थानों पर यह प्रबंध नहीं रहता है. ऐसे में ढेर सारे लोग सिर्फ हाथ सादे पानी से धुल कर खाद्य पदार्थों का सेवन कर रहे हैं. यह काफी घातक प्रवृत्ति है. अगर किसी समारोह में जा रहे हैं तो एहतियातन हैंडवॉश या सेनेटाइजर साथ रख सकते हैं. हाथों को साबुन पानी से 40 सेकेंड तक धोने या फिर सेनेटाइज करने के बाद ही खाद्य पदार्थों का सेवन करना है.• कोविड टीके की दोनों डोज लेने के बाद भी नियमों का पालन करना है.

• गले मिलकर या हाथ मिला कर न करें अभिवादन.
• बात करते समय मास्क न उतारें.
• मास्क को धुले बिना इस्तेमाल न करें.
• किसी अन्य व्यक्ति का पहना मास्क इस्तेमाल न करें.
• जहां तक संभव हो शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करें.
टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
रूस में दो नए काउंसलेट खोलने का ऐलान, मॉस्को में बोले मोदी- भारत का विकास देख दुनिया भी हैरान
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र