यूपी में फिर तेजी से पैर पसारने लगा कोरोना!

 


लखनऊ :विधानसभा चुनाव के मुहाने पर खड़े यूपी से चिंता की बड़ी खबर है। मंगलवार को प्रदेश में ओमिक्रॉन का ब्लास्ट हुआ है। एक दिन में 18 नए ओमिक्रॉन के मरीज मिले हैं। इससे पहले प्रदेश में 8 ओमिक्रॉन संक्रमित मरीज मिल चुके हैं। यानी अब प्रदेश में ओमिक्रॉन संक्रमित मरीजों की संख्या 26 पहुंच गई है। वहीं, कोरोना ने भी अपनी रफ्तार दोगुनी कर ली है। प्रदेश में 24 घंटे में 992 पॉजिटिव मिले हैं। इससे पहले सोमवार को 572 संक्रमित मिले थे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज अधिकारियों के साथ बैठक कर कोरोना के संक्रमण को रोकने के उपायों को लेकर गहन विचार विमर्श किया गया। फिलहाल यूपी में वीकड लाकडाउन न लगाने का निर्णय किया गया है। यूपी में रात्रिकालीन कफर््यू पहले ही लगाया जा चुका है।

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक, यूपी में नए मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। जबकि रिकवरी कम हो रही है। इसने डॉक्टरों की चिंता बढ़ा दी है। मंगलवार को महज 77 मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। इसके बाद प्रदेश में एक्टिव केस की संख्या 3137 तक पहुंच गई है। एक्सपर्ट का मानना है कि अगर यूपी में लोग नहीं संभले और कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया तो स्थिति भयावह हो सकती है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज शाम को लखनऊ में टीम 9 के अधिकारियों के साथ बैठक कीे। बैठक में कोरोना के संक्रमण को रोकने के उपायों को लेकर गहन विचार विमर्श किया गया। फिलहाल यूपी में वीकड लाकडाउन न लगाने का निर्णय किया गया है। आपको बता दें कि यूपी में अभी कोरोना नाइट कर्फ्यू लागू है जो रात 11 बजे से सुबह पांच बजे तक रहता है। सोमवार को 24 घंटों में 572 नए संक्रमित मिले थे।

प्रदेश के अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने कहा कि कल प्रदेश में 1,66,033 सैंपल की जांच की गई और अब तक कुल 9,36,00,940 सैंपल की जांच की जा चुकी है। 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों में अब तक 12,89,19,556 को वैक्सीन की पहली डोज लग चुकी है और इनमें से 7,43,46,492 लोगों को दूसरी डोज लगी है, अब तक कुल 20,36,66,048 डोज दी गई है। कल प्रदेश में 15-18 साल के बच्चों में 1,70,386 को पहली डोज दी गई।

टिप्पणियाँ