भ्रष्टाचार के आरोप में गाजियाबाद की पूर्व जिला अधिकारी निधि केसरवानी निलंबित

 


पूर्व जिलाधिकारी सेवानिवृत्त आईएएस विमल दुबे के खिलाफ एफ़आईआर के आदेश

लखनऊ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भ्रष्टाचार के विरूद्ध जीरो टॉलरेंस की नीति के अनुरूप गाजियाबाद की तत्कालीन जिलाधिकारी निधि केसरवानी को निलंबित कर दिया है. साथ ही वहाँ तैनात रहे सेवानिवृत्त डीएम विमल दुबे के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर कड़ी कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं.

निधि केसरवानी चूँकि केंद्र सरकार में तैनात हैं इसलिए निलंबित करते हुए विभागीय कार्यवाही शुरू करने के लिए प्रकरण भारत सरकार को संदर्भित करने के आदेश दिए हैं.

दोनों अधिकारियों पर आरोप है कि उन्होंने गाजियाबाद में तैनात रहते हुए भूमि अधिग्रहण के मामले में ज़्यादा भुगतान नियम विरूद्ध करके चहेते लोगों को लाभ पहुँचाया.

आपको बता दें कि आईएएस निधि केसरवानी वर्तमान समय में केंद्र सरकार में डिप्टी सेक्रेटरी नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ एंड फैमिली वेलफेयर में तैनात है. निधि केसरवानी 21 जुलाई 2016 को गाजियाबाद की डीएम बनी थी. मामले में अब निधि केसरवानी के खिलाफ कार्रवाई केंद्र सरकार को करनी है. यूपी में उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई शुरू होने के साथ ही भारत सरकार को भी इसके लिए पत्र लिखा गया है. मामले में यूपी सरकार ने दोषियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के भी निर्देश दिए हैं.

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
रूस में दो नए काउंसलेट खोलने का ऐलान, मॉस्को में बोले मोदी- भारत का विकास देख दुनिया भी हैरान
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र