इंटीरियर डिजाइन भौतिक और अध्यात्म का मिश्रण है- शेफाली शर्मा

 

शेफाली शर्मा

गाजियाबाद देविका चैंबर शेफाली डिजाइन स्टूडियो .की चेयरपर्सन शेफाली शर्मा .ने एक संक्षिप्त वार्ता के अंतर्गत कहां की .प्रारंभ काल  से ही वर्तमान तक इंटीरियर डिजाइन का महत्व बढ़ता जा रहा है आज मैं यह बात दावे के साथ कर सकती हूं कि इंटीरियर डिजाइन भौतिक और अध्यात्म का मिश्रण है इस  21वीं  सदी में प्रतिस्पर्धा की जो जीवन शैली है उस शैली में इंटीरियर डिजाइन का महत्व .बहुत अधिक हो जाता है आज हर व्यक्ति भाग दौड़ जिंदगी के बाद अपने घर में अपने ऑफिस में अपने फैक्ट्री में अपने फ्लैट में अपने पेट हाउस में या फार्म हाउस या कोई भी ऐसी भौतिक संसाधन जिसमें एक आम नागरिक से लेकर एक करोड़पति भी जीवन यापन के बारे में सोचता है, ऐसी स्थिति में इस भौतिकवादी  दुनिया में हर किसी के यही मांग होती है कि यदि उसका फ्लैट  या ऑफिस है या बंगलो है उसका इंटीरियर डिजाइन इतना सुंदर और सुखद .हो कि उसमें बैठते ही इंसान को .एक शांति का एहसास हो वह अपनी परिकल्पना को वहां बैठकर नई उड़ान दे सके और मेहमानों को भी .उसका ऑफिस या घर या बंगलो आकर्षित करता  हो शेफाली शर्मा ने कहा कि इन्हीं सब वास्तविकता को ध्यान में रखकर हमारा इंटीरियर डिजाइन स्टूडियो दिल्ली एनसीआर में बहुत ही सक्रियता के साथ आगे बढ़ रहा है और मेरा यही प्रयास है कि हमअपनी कल्पनाशीलता मेहनत और वर्तमान की सोच का मिश्रण करते हुएअपने क्लाइंट को बेहतर से बेहतर सुविधा दे अंत में एक सवाल के जवाब में शेफाली शर्मा ने कहा कि आज हमारा भारत देश विश्व की तीसरी अर्थव्यवस्था .के लिए तैयार हो रहा है ऐसी स्थिति में भारत देश में विदेशी रीति रिवाज  के रंग  का आगे बढ़ना स्वाभाविक है लेकिन हमारी जो भारतीय परंपरागत मिट्टी की खुशबू है उसकी बनावट है .उसकी जो विश्व में लोकप्रियता है उसका भी ध्यान में रखते हुए हम .इंटीरियर डिजाइन को क्लाइंट के अनुरूप रंग भरते हैं और मुझे पूरी उम्मीद है की आने वाले समय में जिस तरह से ग्लोबल दुनिया एक साथ मिलजुल कर काम करने को तैयार हो रही है, इंटीरियर डिजाइन स्टूडियो का काम शिखर पर पहुंचेगी और इस इंडस्ट्री को नया आयाम हासिल होगा, इसके साथ-साथ जीवन शैली की नई परिभाषा जिसमें भारतीयता का मिश्रण होता वह पूरे विश्व में शिखर पर होगा

टिप्पणियाँ
Popular posts
परमपिता परमेश्वर उन्हें अपने चरणों में स्थान दें, उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें व समस्त परिजनों व समाज को इस दुख की घड़ी में उनका वियोग सहने की शक्ति प्रदान करें-व्यापारी सुरक्षा फोरम
चित्र
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की आपातकाल बैठक में वर्किंग कमेटी की गई भंग सर्वसम्मति से नए अध्यक्ष चुने गए डॉक्टर अनूप श्रीवास्तव
चित्र
भारत की स्वतंत्रता प्राप्ति में भी ब्राह्मणों के बलिदान का एक पृथक वर्चस्व रहा है।
चित्र
रूस में दो नए काउंसलेट खोलने का ऐलान, मॉस्को में बोले मोदी- भारत का विकास देख दुनिया भी हैरान
चित्र
पीपल, बरगद, पाकड़, गूलर और आम ये पांच तरह के पेड़ धार्मिक रूप से बेहद महत्व
चित्र