विद्युत की अधिकतम् मांग को पूरा करने वाला देश का पहला राज्य बना उत्तर प्रदेश

 


वर्ष 2023 में उत्तर प्रदेश ने की पीक डिमांड के सापेक्ष 28,284 मेगावाॅट की सर्वाधिक आपूर्ति राज्य सभा में उठे प्रश्न का जवाब देते हुए केंद्रीय ऊर्जा मंत्री ने बाताया यह आंकड़ा राज्य में आ रही नई उत्पादन क्षमता के साथ हम राज्य की जनता को देंगे और भी बेहतर बिजलीप्रदेश के विद्युत तंत्र में हो रहे ऐतिहासिक सुधार से उत्तर प्रदेश सर्वाधिक विद्युत मांग को पूरा करने वाला देश का पहला नंबर का राज्य बन गया है। जिसकी जानकारी स्वयं केंद्रीय ऊर्जा मंत्री  आर.के. सिंह जी ने राज्यसभा में विद्युत उत्पादन एवं मांग आपूर्ति की स्थिति पर उठे सवाल का लिखित जवाब देते हुए दी। केंद्रीय ऊर्जा मंत्री  ने अपने जवाब के साथ एक सूचि भी जारी की, जिसमें यह स्पष्ट है कि अप्रैल 2023 से नवम्बर 2023 में उत्तर प्रदेश ने मांग के सापेक्ष 28,284 मेगावाॅट की सर्वाधिक आपूर्ति कर देश में प्रथम स्थान हासिल किया है। सूबे के ऊर्जा एवं नगर विकास मंत्री ए.के. शर्मा ने सोशल मीडिया प्लेटफाॅर्म एक्स पर प्रदेश की सर्वाधिक मांग को पूरा करने में प्रथम स्थान पर आने वाली सूचि को साझा कर यह जानकारी दी है। उन्होंने इस उपलब्धि के लिए  प्रधानमंत्री  को नमन करते हुए मुख्यमंत्री  को धन्यवाद ज्ञापित किया है।

बता दें कि राज्यसभा में अतरांकित प्रश्न संख्या 1911 में 19 दिसंबर के जवाब में देश में विद्युत उत्पादन एवं मांग आपूर्ति की स्थिति पर केंद्रीय ऊर्जा मंत्री  आर.के. सिंह जी ने जवाब दिया। विस्तृत जवाब देते हुए केंद्रीय ऊर्जा मंत्री  ने देश में विद्युत की अधिकतम् मांग को पूरा करने वाले राज्यों की जानकारी देते हुए सूचि भी जारी की। सूचि में इस वर्ष उत्तर प्रदेश भारत में सबसे अधिक विद्युत डिमांड को पूरा करने वाला राज्य बना है। उत्तर प्रदेश ने महाराष्ट्र, गुजरात, तमिलनाडु और राजस्थान को पीछे छोड़ते हुए 28,284 मेगावाॅट की सर्वाधिक आपूर्ति कर प्रथम स्थान हासिल कर लिया है। उत्तर प्रदेश ने पीक डिमाण्ड को अप्रैल 2023 से नवम्बर 2023 में पूरा कर बता दिया है कि आने वाले समय में इससे भी बड़ी चुनौती को पूरा किया जाएगा, जिसके लिए विद्युत तंत्र में ऐतिहासिक सुधार किया जा रहा।

प्रदेश के उर्जा एवं नगर विकास मंत्री ने सोशल मीडिया प्लेटफाॅर्म एक्स पर पोस्ट करते हुए लिखा कि ‘उत्तर प्रदेश के विद्युत तंत्र के लिए यह एक सुखद समाचार है। वर्ष 2023 में हुई भीषण गर्मी के दिनों में उत्तर प्रदेश पीक डिमांड (बिजली की अधिकतम मांग) को पूरा करने वाला देश का पहला राज्य बना है। अप्रैल 2023 से नवम्बर 2023 में उत्तर प्रदेश ने 28,284 मेगावाट की अपूर्ती कर देश में पहला स्थान हासिल किया है। अधिकतम मांग को पूरा करने में देश के सभी राज्यों को पीछे छोड़ा, जिसकी जानकारी भारत सरकार के विद्युत मंत्रालय ने राज्य सभा प्रश्न के जवाब में हाल में ही बताई है। उर्जा मंत्री श्री शर्मा ने इस ऐतिहासिक सफलता के लिये विद्युत कर्मियों एवं राज्य की जनता को बधाई दी है। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि इस साल की गर्मी के दिनों में विद्युत विभाग ने यूपी के इतिहास में भी अभी तक की सबसे ज्यादा 28,284 मेगावाट की विद्युत आपूर्ति की है। इतना ही नहीं राज्य में आ रही नई उत्पादन क्षमता के साथ हम राज्य की जनता को और भी बेहतर बिजली देंगे। मंत्री श्री शर्मा ने बताया कि ओबरा की नई यूनिट से 660 मेगावाट विद्युत उत्पादन शुरू हो गया है। वहीं इसकी दूसरी यूनिट तथा जवाहरपुर, पनकी और ओबरा डी से उत्पादन की शुरुआत होना बाकी है। इस ऐतिहासिक सफलता के लिये मंत्री  शर्मा ने प्रधानमंत्री जी को नमन करते हुए मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया है। साथ ही प्रदेश के विद्युत कर्मियों और जनता को भी बधाई और शुभकामनायें दी हैं।

टिप्पणियाँ